Digital Marketing (डिजिटल मार्केटिंग)

Best डिजिटल मार्केटिंग | Digitalmarketing How To Get Started

इस पोस्ट में आप डिजिटल मार्केटिंग की परिभाषा जानेंगे डिजिटल मार्केटिंग दो शब्दों से मिलकर बना है पहला शब्द डिजिटल और दूसरा शब्द है मार्केटिंग इन दोनों शब्दों को हम अलग अलग तरह से समझते हैं डिजिटल का अर्थ क्या होता है और मार्केटिंग का अर्थ क्या होता है मार्केटिंग की परिभाषा मैंने पहले ही पोस्ट में बता दिया है अब हम बात करेंगे डिजिटल की।

डिजिटल किसे कहते हैं

इलेक्ट्रॉनिक संसाधनों के माध्यम से किया गया कोई भी काम डिजिटल कहलाता है आज के समय में हमारे आसपास बहुत सी डिजिटल संसाधन मौजूद हैं जैसे कि कंप्यूटर ,मोबाइल फोन, स्मार्ट वॉच आदि

अब आप सोच रहे होंगे की इसका मार्केटिंग से क्या संबंध है जिस तरह से ऑफलाइन मार्केटिंग होती है ऑफलाइन मार्केटिंग में एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति के द्वारा मार्केटिंग किया जाता है ठीक उसी तरह से डिजिटल मार्केटिंग भी होती है जहां पर इंटरनेट के माध्यम से एक प्रोडक्ट को पूरी दुनिया में  कुछ मिनटों के अंदर लोगों तक पहुंचा सकते हैं और उसकी विस्तृत जानकारी बता सकते हैं जबकि ऑफलाइन मार्केटिंग में ऐसा नहीं है डिजिटल मार्केटिंग और ऑफलाइन मार्केटिंग में ये बहुत बड़ा अंतर है।

डिजिटल मार्केटिंग कैसे करते हैं

दुनिया में हर दिन लाखों करोड़ों लोग इंटरनेट का इस्तेमाल कर घर बैठे ही अपनी जरूरत में आने वाले सामान खरीद लेते हैं।

पिछले कुछ सालों में शॉपिंग करने का तरीका बिलकुल ही बदल गया है अब पहले की तरह लोग मार्केट में जा कर सामान नहीं खरीदते है बल्कि वह ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट पर जा कर वहां से सामान देखते हैं और पसंद आने पर उसे ऑनलाइन खरीद लेते हैं।

 इस तरह से की गई शॉपिंग भी एक तरह से यह भी डिजिटल मार्केटिंग का एक हिस्सा है इसे आप ऑनलाइन शॉपिंग भी कह सकते है।

मैं डिजिटल मार्केटिंग को एक और उदाहरण के साथ आपको बताता हूं ताकि आप और बेहतर तरीके से समझ सके की डिजिटल मार्केटिंग क्या है।

डिजिटल मार्केटिंग इंटरनेट कंप्यूटर,मोबाइल और इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के जरिए की जाने वाली मार्केटिंग को डिजिटल मार्केटिंग कहा जाता है डिजिटल मार्केटिंग पूरी तरह से ऑनलाइन होती है।

डिजिटल मार्केटिंग करना आज के समय में उतना ही आसान है जितना कि आपके स्मार्टफोन से अपने दोस्त को फोन करना आप सोच रहे होंगे यह कैसे हो सकता है जी हां यह बिल्कुल सच है। यह बहुत ही आसान है आप यहां पर सामान बेच भी सकते हैं और यहां पर सामान खरीद भी सकते हैं।

डिजिटल मार्केटिंग से शॉपिंग करने के लिए आपको अपने मोबाइल में इंस्टॉल किसी भी ऑनलाइन शॉपिंग एप्लीकेशन में जाकर आप अपनी आवश्यकतानुसार जब भी किसी प्रोडक्ट का चुनाव करते हैं और अपने मोबाइल के माध्यम से या फिर कंप्यूटर के माध्यम से या आपका लैपटॉप भी हो सकता है।

  जब भी किसी प्रोडक्ट को खरीदते हैं उस समय आप डिजिटल मार्केटिंग कर रहे होते हैं मार्केटिंग का अर्थ सिर्फ बेचना ही नहीं होता बल्कि खरीदारी करना भी एक मार्केटिंग ही है जिसे हम लोग बहुत अच्छी तरह से जानते हैं यह तो हुआ डिजिटल तरीके से मार्केटिंग करना।

डिजिटल मार्केटिंग के माध्यम से अपने प्रोडक्ट को सेल करना

जिस तरह से हम डिजिटल मार्केटिंग से शॉपिंग करते हैं आप यहां अपने प्रोडक्ट को सेल भी कर सकते हैं अपने प्रोडक्ट को सेल करने के लिए आपके पास ऑनलाइन बहुत से माध्यम मौजूद हैं जहां पर आपको अपनी कुछ बेसिक जानकारी देनी होती है अपना एक अकाउंट बनाना होता है अपने अकाउंट को रजिस्टर कीजिये। आपका अकाउंट रजिस्टर होने के बाद आप अपने प्रोडक्ट को उस प्लेटफार्म पर अपलोड कर सकते हैं। कुछ प्लेटफार्म ऐसे हैं जो कि यह सब करने के लिए आपको बहुत अच्छे सुविधाएं देते हैं जैसे कि अमेजॉन, फ्लिपकार्ट आदि।

डिजिटल मार्केटिंग के फायदे

  • डिजिटल मार्केटिंग करने के लिए आपको किसी भी तरह की दुकान यह जगह की आवश्यकता नहीं होती यहां पर आपको अपने मोबाइल या कंप्यूटर से सब काम ऑनलाइन करना होता है।
  • डिजिटल मार्केटिंग करने के लिए आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं पड़ती आप इसे अपनी मनपसंद जगह पर रहते हुए भी कर सकते हैं जैसे कि आपका घर आप का बगीचा आदि।
  • आप अपने बिजनेस को उसके अनुसार निर्धारित जगह पर प्रमोट कर सकते हैं जोकि आपके बिजनेस के लिए बहुत ही अच्छा है
  • आप एक ही जगह से अपने बिजनेस को पूरी दुनिया में कहीं पर भी प्रमुख कर सकते हैं जबकि ऑफलाइन मार्केटिंग में ऐसा नहीं है डिजिटल मार्केटिंग का यह एक बहुत बड़ा फायदा है।
  • डिजिटल मार्केटिंग में आप अपने प्रोडक्ट के हिसाब से अपनी टारगेट ऑडियंस को अपना प्रोडक्ट दिखा सकते हैं जैसे कि यदि आपका प्रोडक्ट 30 साल के युवाओं के लिए है तो आपका फोटो सिर्फ कुछ उम्र के युवाओं को ही दिखाई देगा जिसे हम टारगेट ऑडियंस भी कहते हैं।
  • डिजिटल मार्केटिंग में आप बिजनेस के अनुसार अपने प्रोडक्ट का विज्ञापन चला सकते हैं। और इसमें कुछ भी परिवर्तन किसी भी समय कर सकते हैं जबकि ऑफलाइन मार्केटिंग में ऐसा नहीं है।
  • डिजिटल मार्केटिंग में आप अपने ग्राहक को कई तरह की डिजिटल सुविधाएं दे सकते हैं जैसे की पेमेंट गेटवे, डिस्काउंट, फ्री डिलीवरी आदि और भी अपनी सुविधा के अनुसार आप अपने ग्राहकों को आसानी से आकर्षित कर सकते हैं।
  • ऑफलाइन मार्केटिंग की अपेक्षा डिजिटल मार्केटिंग में आपको काफी अच्छा बेनिफिट मिलता है और इससे आप कहीं पर भी प्रमोट कर सकते हैं जैसे कि फेसबुक ट्विटर यूट्यूब लिंक्डइन गूगल जैसे प्लेटफार्म पर इसे आप आसानी से प्रमोट कर सकते हैं।
  • डिजिटल मार्केटिंग के जरिए आप अपनी ब्रांड वैल्यू या कंपनी की ब्रांडिंग काफी अच्छे से कर सकते हैं।
  • डिजिटल मार्केटिंग का सबसे बड़ा फायदा या है कि आज के जमाने में किसी के पास टाइम नहीं है ऐसे में अगर आपको जल्दी और अत्याधिक गुणवत्ता वाला प्रोडक्ट आपको ऑनलाइन मिल जाता है इससे अच्छी बात और क्या हो सकती है।

 दोस्तों आपने यहां पर जाना की डिजिटल मार्केटिंग के क्या क्या फायदे होते हैं डिजिटल मार्केटिंग के और भी बहुत से फायदे हैं परंतु मैंने यहां पर कुछ महत्वपूर्ण फायदों के बारे में ही बताया है डिजिटल मार्केटिंग के फायदे के साथ-साथ इसके कुछ नुकसान भी हैं चलिए अब जानते हैं कि इसके नुकसान क्या क्या है।

डिजिटल मार्केटिंग के नुकसान

  • डिजिटल मार्केटिंग की बात करें तो यहां पर आपको अत्याधिक कंपटीशन का सामना करना पड़ता है।
  • ऑनलाइन मार्केटिंग दूसरा सबसे बड़ा प्रॉब्लम आपकी सिक्योरिटी का आता है जहां पर आप की पर्सनल जानकारी आपके डाटा और भी बहुत सी महत्वपूर्ण जानकारियां ऑनलाइन मौजूद होती हैं यदि  सिक्योरिटी का  ध्यान नहीं रखा गया तो इससे हमें काफी नुकसान हो सकता है।
  • आज के समय में हर काम ऑनलाइन होने लग गया ऐसे में फ्रॉड के चांस भी बहुत ज्यादा बढ़ रहे हैं जैसे कि ऑनलाइन बैंकिंग, आपका पासवर्ड आदि यह किसी दूसरे के पास चला जाता है तब आपको काफी धन हानि का सामना करना पड़ सकता है
  • डिजिटल मार्केटिंग करने के लिए आपको कुछ चीजों की बेसिक जानकारी होना अति आवश्यक है जैसे कि SEO, hosting, etc यदि इन सब की बेसिक जानकारी आपको है तब भी आपका काम चल सकता है नहीं तो आपको किसी एक्सपर्ट की मदद लेनी पड़ेगी।

डिजिटल मार्केटिंग को स्टार्ट करने कुछ महत्वपूर्ण तरीके

सर्च इंजन मार्केटिंग

सोशल मीडिया मार्केटिंग

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन

ईमेल मार्केटिंग

वेब analytics

सेल्स funnels

यदि आप ऊपर दिए गए ताकि को के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

डिजिटल मार्केटिंग करना जरूरी क्यों है?

जब तक लोगों के पास इंटरनेट के साधन मौजूद नहीं थे तब शायद कुछ ही लोग डिजिटल मार्केटिंग या इंटरनेट के बारे में जानते होंगे परंतु जब से इंटरनेट का विकास तेजी से हुआ है तब से ऐसा लगता है कि हमारी पूरी दुनिया कंप्यूटर और मोबाइल में सिमट कर आ गई है पूरी दुनिया में लगभग 80% लोग इंटरनेट पर कुछ ना कुछ समय व्यतीत करते हैं और यही सबसे बड़ा कारण है डिजिटल मार्केटिंग के सफल होने का डिजिटल मार्केटिंग जितना ही आसान है उतना ही कंपटीशन ज्यादा है।

डिजिटल मार्केटिंग में आपका बिजनेस छोटा है या बड़ा से कोई फर्क नहीं पड़ता। डिजिटल मार्केटिंग ऑफलाइन मार्केटिंग की तुलना में काफी सस्ती है और सबसे अच्छी बात क्या है कि आप अपने बिजनेस की ब्रांडिंग आसानी से कर सकते हैं डिजिटल मार्केटिंग में आप अपने विज्ञापन को पूरी दुनिया में कहीं भी दिखा सकते हैं और अपने बिजनेस को आगे बढ़ा सकते हैं जबकि ऑफलाइन मार्केटिंग में ऐसा नहीं है ऑफलाइन मार्केटिंग में आपको विज्ञापन देने के लिए बहुत ज्यादा पैसे खर्च करने पड़ते हैं और समय बहुत ज्यादा लगता है जिसके कारण आज हर व्यक्ति डिजिटल मार्केटिंग करने के बारे में जरूर सोचता है।

यह जानकारी आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और आप किस बारे में जानना चाहते हैं उसके लिए भी कमेंट जरूर करें।

Digital Marketing in English

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *